Encourage (55 in 1 year | sorting by most liked)

✍🏻✍🏻
*कदर करना सिख लो..*
*ना जिंदगी वापस आती है...*
*ना जिंदगी में आये हुये लोग....*

*कई बार तबियत दवा लेने से नहीं*,
*हाल पूछने से भी ठीक हो जाती है*

*कैसे हो आप*!!
‼️

 
555
 
185 days
 
Sunil

*उजालो में मिल ही जायेगा* *कोई ना कोई,*

*तलाश उसकी रखो, जो* *अंधेरों में भी साथ दे।*🌷🙏🙏

 
525
 
251 days
 
Sunil

*हालात सिखाते है,बातें सुनना और सहना !!*

*वरना हर शक्स फितरत से बादशाह ही होता है !!*

*अंधेरे मे जब हम दीया हाथ मे लेकर चलते है तो हमे यह भ्रम रहता है कि हम दीये को लेकर चल रहे है....*
*जबकि सच्चाई एकदम उल्टी है दीया हमे लेकर चल रहा होता है ।*
🌹

 
473
 
133 days
 
Sunil

*अपने ही अपनों से करते है अपनेपन की अभिलाषा.*

*पर अपनों ने ही बदल रखी है, अपनेपन की परिभाषा !!*

 
381
 
283 days
 
Mits9022

Work hard, until lamp light of your study table becomes spot light of stage..

 
377
 
247 days
 
Jasmine

🍃🍂🍃🍂🍃🎭🍃🍂🍃🍂🍃
➡ *नफरत आसानी से कहाँ मिलती हैं~*

✅ *बहुत लोगो का भला करना पड़ता हैं..!!!*
🙏🌻🙏
🍃🍂🍃🍂🍃🍂🍃🍂🍃🍂🍃

 
375
 
172 days
 
Sunil

*आपकी उपस्थिति से..*
*कोई व्यक्ति..*
*स्वयं के दुःख भूल जाए..*
*यही आपकी..*
*उपस्थिति की सार्थकता है* !!
*

 
369
 
103 days
 
Sunil

ठोकरों को मत कोस,
जमीन को प्रणाम कर ...
उठ, कपड़े झाड़ और चल,
तू बिल्कुल भी मत विश्राम कर ...

धरती देती है सहारा,
हर गिरने वाले को ...
पत्थरों से बेपरवाह हो,
तू बस अपना काम कर ...

हवा का सहारा मिले तो,
धूल पहुँच जाती है आसमान पर ...
गिरकर उठने वालों में,
तू भी तो ज़रा अपना नाम कर ...

रूकावटों पर हावी रहें,
सतत कोशिशें सदा तेरी ...
मानव अपराजेय है,
सृष्टि में ये पैगाम कर ...

साँसों के रुकते ही,
सब खत्म हो जाएगा ...
जब तक जिन्दा है,
तब तक तो थोड़ी धूमधाम कर॥

 
340
 
295 days
 
Heart catcher

*जिम्मेदार आप स्वयं है*

*1) आपका सरदर्द, फालतू विचार का परिणाम*

*2) पेट दर्द, गलत खाने का परिणाम*

*3) आपका कर्ज, जरूरत से ज्यादा खर्चे का परिणाम*

*4) आपका दुर्बल /मोटा /बीमार शरीर, गलत जीवन शैली का परिणाम*

*5) आपके कोर्ट केस, आप के अहंकार का परिणाम*

*6) आपके फालतू विवाद, ज्यादा व् व्यर्थ बोलने का परिणाम*

*उपरोक्त कारणों के अलावा सैकड़ों कारण है और बेवजह दोषारोपण दूसरों पर करते रहते
*इसमें ईश्वर दोषी नहीं है*

*अगर हम इन कष्टों के कारणों पर बारिकी से विचार करें तो पाएंगे की कहीं न कहीं हमारी मूर्खताएं ही इनके पीछे है*

 
321
 
109 days
 
mannu22801

Work hard for what you want because it won't come to you without a fight. You have to be strong and courageous and know that you can do anything you put your mind to. If somebody puts you down or criticizes you, just keep on believing in yourself and turn it into something positive.

 
306
 
308 days
 
Jasmine
LOADING MORE...
BACK TO TOP