Hurt/Sad (11029)

शायरी समझते हो जिसे आप सब..
वो मेरी किसी से अधूरी मुलाकात है...✍

 
38
 
10 hours
 
The Alone Boy

सब्र रखो मेरे यारों वो दिन भी आएगा .....
जब टूट कर बिखरने का एहसास तुम्हें मेरी याद दिलाएगा ....

 
46
 
23 hours
 
Abhilekh.......

फटी चादर के सुराखों से झांकते हुए....,
देखे हैं मैंने कुछ बच्चे सर्दी से कांपते हुए....!

 
42
 
2 days
 
Jasmine

उसे गुरुर है दुनिया दीवानी है उसके हुस्न पर,,
मुझे अफसोस है मैंने सिर्फ उसका दिल चाहा था..
😥😥😥😥😥

 
111
 
3 days
 
The Alone Boy

पत्थर दिल हैं साहब पत्थर दिल😢
यहा प्यार की बाते ना करो अब.!!!

 
85
 
6 days
 
dkparihar

दिल के जख्म इतने गहरे हो गए जनाब की अब तोह किसी खरोच का पता भी नही चलता ।।

काश कोई डाकिया खुदा का भी होता ।
जो विदा हो गये दुनिया से उनका पैगाम लाता ।।

*कभी -कभी*
कभी कभी मन करता है
कोई हो जो उठ जाए सुबह मुझसे पहले मेरे लिए
ताकि मै सो सकूँ सुकून से
कोई हो जो कह दे सबसे
धीमे स्वर में फुसफुसा कर
सोने दो उसे थकी हुई है बहुत
उसे आराम करने दो
और सोती रहूँ मै चैन से
बुन लूँ कुछ ख्वाब अनदेखे से
अनजाने अधूरे से
कोई हो जो कर ले मेरी जगह मेरी फिकर
कोई हो जो उठा लेने को हो तत्पर...
मेरी थकान मेरी चिंताए मेरे रंजो गम...
कितना सुकूँ होता है ये जानकर कि कोई है जो सब संभाल लेगा
बस कोई हो जो कह दे मै हूँ ना
मन स्वार्थी हो जाना चाहता है
*कभी कभी बस कभी कभी*

 
74
 
11 days
 
Jasmine

*आदत बदल सी गई है वक़्त काटने की,*

*हिम्मत ही नहीं होती अपना दर्द बांटने की।*

 
269
 
11 days
 
Mits9022

*एक तुम ही न मिल सके वरना...*

*मिलने वाले तो बिछड़ बिछड़ के मिले..😔*

 
151
 
11 days
 
Mits9022
LOADING MORE...
BACK TO TOP