Politics (42 in 1 week | sorting by most liked)

पता नहीं किसने...
राफेल की कुल्फी राहुल को चूसा दी.??

.



.




"कुल्फी" खत्म हो गई,
पर बन्दा लकड़ी तक को चाटता जा रहा है !!😂

 
79
 
5 days
 
MUMBHAI !!!

सर्कस वालों के बाद ,
मोदी जी दूसरे आदमी हैं ....

.



.





जिन्होंने हाथी को साइकिल पर बिठा दिया 😂👏
#ठगबन्धन

 
77
 
a day
 
MUMBHAI !!!

भारत के राजनीतिक इतिहास में मोदी जी ने एक ऐसे राजनेता के रूप में अपना नाम दर्ज कराया...

.


.





जिनसे जनता नहीं नेता परेशान है।
😝😝😝

 
73
 
4 days
 
MUMBHAI !!!

सुना हे "ऐक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर" मे सोनिया गाँधी का रोल सनी लियोनी ने ये कहे के ठुकरा दिया की.

.



.



.





मे "तन बेचती हूँ वतन नही"
😏

 
72
 
5 days
 
MUMBHAI !!!

दुबई में पप्पू ने बोला
.

महात्मा गांधी ने अहिंसा का पाठ इस्लाम से सिखा है
.
सुना था कि अरब देशों में चरस 100%शुद्ध मिलता है आज यकीन भी हो गया.🙄😳

 
66
 
3 days
 
susheel Dubey

कांग्रेसियो और पॉपकॉर्न में एक बात कॉमन है....





नीचे से "सिकते" रहते है और
ऊपर "फुदकते" रहते है....!!
😂😂

 
65
 
5 days
 
MUMBHAI !!!

महागठबंधन से भाजपा डरी हुई है: विपक्ष
.
.
.
पर विपक्ष पहले ये बताये की, "गठबंधन किया किसके डर से है"..!! 😂😂😂

#NaMoAgain

 
63
 
a day
 
MUMBHAI !!!

आज एक टैक्सी वाले ने कहा..

"नोटा" का बटन भारत में " मूर्खों " की संख्या गिनने के लिए बनाया गया है।

कसम से, बात दिल को छू गई😚

 
60
 
3 days
 
akshay parekh

चमचो को 60 साल में कांग्रेस के घोटाले नहीं दिखे
5 साल में मोदी का विकास क्या घंटा दिखेगा
🤔😁🤣😂

 
57
 
2 days
 
गांधी परिवार चोर है

कहते हैं एक बादशाह ने रफूगर रखा हुआ था, जिसका
काम कपड़ा रफू करना नहीं, बातें रफू करना था.!!
۔
दरसल वो बादशाह की हर बात की कुछ ऐसी वज़ाहत करता के सुनने वाले सर धुनने लगते के वाकई बादशाह सलामत ने सही फरमाया,

एक दिन बादशाह दरबार लगाकर अपनी जवानी के शिकार की कहानी सुनकर रियाया को मरऊब कर रहे थे,

जोश में आकर कहने लगे के एकबार तो ऐसा हुआ मैंने आधे किलोमीटर से निशाना लगाकर जो एक हिरन को तीर मारा तो तीर सनसनाता हुआ गया और हिरन की बाईं आंख में लगकर दाएं कान से होता हुआ पिछले पैर की दाईं टांग के खुर में जा लगा,

बादशाह को तवक़क़ो थी के अवाम दाद देंगे लेकिन अवाम ने कोई दाद नहीं दी,

वो बादशाह की इस बात पर यकीन करने को तैयार ही नहीं थे,

इधर बादशाह भी समझ गया ज़रूरत से ज़्यादा लम्बी छोड़ दी.. और अपने रफूगर की तरफ देखने लगा,

रफूगर उठा और कहने लगा.. हज़रात मैं इस वाक़ये का चश्मदीद गवाह हूँ,

दरसल बादशाह सलामत एक पहाड़ी के ऊपर खड़े थे हिरन काफी नीचे था,

हवा भी मुआफ़िक चल रही थी वरना तीर आधा किलोमीटर कहाँ जाता है..

जहां तक ताअल्लुक़ है "आंख "कान और "खुर का, तो अर्ज़ करदूँ जिस वक्त तीर लगा था उस वक़्त हिरन दाएं खुर से दायाँ कान खुजला रहा था,

इतना सुनते ही अवाम ने दादो तहसीन के लिए तालियां बजाना शुरू कर दीं

अगले दिन रफूगर बोरिया बिस्तरा उठाकर जाने लगा..
۔
बादशाह ने परेशान होकर पूछा कहाँ चले?

रफूगर बोला बादशाह सलामत मैं छोटी मोटी तुरपाई लगा लेता हूँ, फटा शामियाना सिलवाना हों तो , संबित पात्रा को रखिये.!!

😂😂😂😂😹😹😹😹😹🤣🤣🤣😜😜😜

 
55
 
5 days
 
amit 19
LOADING MORE...
BACK TO TOP