Shayari (19120)

मान जाता हूं बस ज़रा सी मान मनुहार से..!
अब बचपन सी जिद्दी वो जिद ना रही..!!

 
51
 
15 hours
 
Pankaj soni

*शायरी वो लोग करते हैं सनम*

*जिनकी आँखों में दर्द रोता है*💔

 
39
 
4 days
 
Mits9022

*जिंदगी जीलो साहब....

*बाकी एक दिन ऐसा आयेगा*
*कि आपके ही प्रोग्राम में*
*आपकी गैरहाजिरी होगी*

 
151
 
4 days
 
Mits9022

*बचाकर दौलते एहसास रखें भी तो क्या रखें*


*यँहा तो रोज़ ही किरदार के फैशन बदलते हैं*

 
93
 
4 days
 
Mits9022

*पीपल के पत्तों जैसा मत*
*बनो*
*जो वक्त आने पर*
*सूख कर गिर जाते है*
*बनना है तो मेहँदी के पत्तों जैसा*
*बनो*
*जो पिस कर भी*
*दूसरों की जिंदगी में*
*रँग भर देते हैं ।*

 
86
 
5 days
 
ankur6177

*कसक भी, टीस भी, गम भी, नज़र भी, जान भी, दिल भी*

*बड़ी गुलज़ार रहती है अकेलेपन की महफ़िल भी*

 
137
 
7 days
 
Mits9022

*जिनकी हंसी खूबसूरत होती है*

*उनके जख्म काफी गहरे होते है*

 
185
 
7 days
 
Mits9022

*हम जिसे छिपाते फिरते हैं उम्रभर,वही बात बोल देती है*,

*शायरी भी क्या गजब होती है,हर राज खोल देती है*,👌

 
250
 
12 days
 
DDLJ143

*बदल दिया है मुझे,*मेरे चाहने वालो ने ही,*वरना मुझ जैसे शख्स में,*
*इतनी खामोशी कहाँ थी..*
💖☝🏻🍁

 
361
 
15 days
 
Ak47

संभल कर किया करो, गैरों से हमारी बुराई,
तुम्हारे जो अज़ीज़ है, वो हमारे मुरीद है साहिब..

 
237
 
15 days
 
Jasmine
LOADING MORE...
BACK TO TOP