Shayari (19282)

*प्यास बढ़ती जा रही है बहता दरिया देख कर*

*भागती जाती हैं लहरें ये तमाशा देख कर*

 
7
 
2 hours
 
Paraskumar Pande

Apne Ghr Ki छत Pr Jis Trh Chand Ko Dekhta Hun...

Taakta Hua Mujhe...

Sochta Hun..

Shayad 😣 Tum Bhi Dekhoge Us Kadar Kabhi Hamein..

🅰️

 
7
 
14 hours
 
@$HU

जितना हो सके उतना दीदार करने दो,
मन तो नहीं भरेगा,
पर आंख भरने से रोक लो 💕💕

 
39
 
a day
 
paglaa

ख़्वाबों की उम्र बहुत छोटी होती है दोस्तों,

आँखे खुल जाए तो मंज़र कुछ और ही होता है !!

 
73
 
2 days
 
Paraskumar Pande

Ishq wale aankho ki baat samjh lete hai,
Sapno me mil jaye to mulakaat samjh lete hai,
Rota to aasman bhi hai pyar k liye,
Par log use barsaat smjh lete hai.

 
33
 
2 days
 
Hitesh Gulati

*❤इश्क चख लिया था*
*इत्तफ़ाक से,*

*ज़बान पर आज भी*
*दर्द के छाले है..❤💔.*

 
55
 
3 days
 
Paraskumar Pande

मतलब सिर्फ सुकुन से हैँ...

लिख ना पाओ तो पढ लिया करो....!!!🌹.....

 
65
 
3 days
 
Paraskumar Pande

पता नहीं क्यूँ, कभी कभी 'दिल' यूँ ही '
खुश' हो जाता है, 💕💕
​लगता है, जैसे 'उसने' छू लिया हो मुझे .💕💕💕💕💕

 
63
 
4 days
 
Paraskumar Pande

मुहब्बत की इन्तिहां न पूछिये।
इस प्यार की वजह न पूछिये
💞💞💞💞💞💞💞
हर सांस मे समाये रहते हो
कहां बसे हो तुम जगह न पूछिये

 
79
 
5 days
 
Paraskumar Pande

💞💫 अगर रब पूछे.... तेरी हसरत क्या हैं .......

तो कहेंगे...

क़रार उसे भी न मिले...जो हमें बेक़रार करके गया ।💞

 
79
 
6 days
 
DDLJ143
LOADING MORE...
BACK TO TOP