Wisdom (17835 | sorted randomly)

"Every person can say "i can understand ur feelings" but a true one will always say "i can feel ur feeling".thats the magic of true relationship.!

 
358
 
2103 days
 
AMIN:WOK ON FIRE

"ज्ञान वह पंख हैं जिनके सहारे हम बिना पंखो के ही

स्वर्ग की ओर उड़ान लगा सकते हैं "

 
98
 
1395 days
 
Karan B Patel

🌺🍀🍀🌺
एक कमरा था
जिसमें मैं रहता था
माँ-बाप के संग
घर बड़ा था
इसलिए इस कमी को
पूरा करने के लिए
मेहमान बुला लेते थे हम!

फिर विकास का फैलाव आया
विकास उस कमरे में नहीं समा पाया
जो चादर पूरे परिवार के लिए बड़ी पड़ती थी
उस चादर से बड़े हो गए
हमारे हर एक के पाँव
लोग झूठ कहते हैं
कि दीवारों में दरारें पड़ती हैं
हक़ीक़त यही
कि जब दरारें पड़ती हैं
तब दीवारें बनती हैं!
पहले हम सब लोग दीवारों के बीच में रहते थे
अब हमारे बीच में दीवारें आ गईं
यह समृध्दि मुझे पता नहीं कहाँ पहुँचा गई
पहले मैं माँ-बाप के साथ रहता था
अब माँ-बाप मेरे साथ रहते हैं

फिर हमने बना लिया एक मकान
एक कमरा अपने लिए
एक-एक कमरा बच्चों के लिए
एक वो छोटा-सा ड्राइंगरूम
उन लोगों के लिए जो मेरे आगे हाथ जोड़ते थे
एक वो अन्दर बड़ा-सा ड्राइंगरूम
उन लोगों के लिए
जिनके आगे मैं हाथ जोड़ता हूँ

पहले मैं फुसफुसाता था
तो घर के लोग जाग जाते थे
मैं करवट भी बदलता था
तो घर के लोग सो नहीं पाते थे
और अब!
जिन दरारों की वहज से दीवारें बनी थीं
उन दीवारों में भी दरारें पड़ गई हैं।
अब मैं चीख़ता हूँ
तो बग़ल के कमरे से
ठहाके की आवाज़ सुनाई देती है
और मैं सोच नहीं पाता हूँ
कि मेरी चीख़ की वजह से
वहाँ ठहाके लग रहे हैं
या उन ठहाकों की वजह से
मैं चीख रहा हूँ!
🍀🌺🌺🍀

 
139
 
1398 days
 
^_^

*मिलता तो बहुत कुछ है इस ज़िन्दगी में....*

*बस हम गिनती उसी की करते है*
*जो हासिल ना हो सका....*🙏

 
815
 
618 days
 
anil Manawat

🌱🌿🙏🙏🙏🙏🙏🙏🌿🌱
*यही समय है प्रकृति*
*का कर्ज उतारने का*
🙏साँसे हो रही है कम
आओ बृक्ष लगाये हम🌳🙏

 
127
 
793 days
 
_N@jmi_

Stupid Conversation Make Sense . .

- When You're Talkiing To Some"one Special...!!😊😊

 
82
 
2351 days
 
Jaimin

A shoulder to cry on, an ear to bend, money to borrow, clothes to lend, Friday night hangouts, afternoon walks, 2am phone calls, private talks, memories together will never end, always and forever best friends!:::: :D

 
300
 
1973 days
 
Cutieee Galll

What thou art is mine;
Our state cannot be severed, we are one,
One flesh; to lose thee were to lose myself.

 
11
 
2118 days
 
Tejass

Once a group of 50 people was attending a seminar.

Suddenly the speaker stopped and started giving each one a balloon. Each one was asked to write his/her name on it using a marker pen. Then all the balloons were collected and put in another room.

Now these delegates were let in that room and asked to find the balloon which had their name written, within 5 minutes. Everyone was frantically searching for their name, colliding with eachother, pushing around others and there was utter chaos.

At the end of 5 minutes no one could find their own balloon.

Now each one was asked to randomaly collect a balloon and give it to the the person whose name was written on it.

Within minutes everyone had their own balloon.

The speaker began--- Exactly this is happening in our lives. Everyone is frantically looking for happiness all around, not knowing where it is.

Our happiness lies in the happiness of other people. Give them their happiness, you will get your own happiness.

And this is the purpose of human life! 😊

 
258
 
1691 days
 
Dev ;)

Don't count the minutes, just the laughs. Enjoy the little things, and make them last.

 
96
 
2212 days
 
Yash Modha
LOADING MORE...
BACK TO TOP